नरेंद्र मोदी जी के बारे में जानकारी 2021 | Information about narendra modi in hindi

दोस्तो आज मैं आप को इस ब्लॉग में नरेंद्र मोदी जी के बारे में अर्थात आज का हमारा विषय है information about narendra modi in hindi। नरेंद्र मोदी जी के बारे में सुना सभी व्यक्ति ने है लेकिन उनके जीवन के बारे में लोगो को नही पता है जिस वजह से गूगल पर प्रतिदिन इस तरह के सर्च होते है जैसे की narendra modi biography in hindi , narendra modi information in hindi।

तो चलिए शुरू करते हैं।

नरेंद्र मोदी जी के बारे में जानकारी | Information about narendra modi in hindi | narendra modi biography in hindi

INFOGYANS

नरेंद्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 में बॉम्बे राज्य के महेसाना जिला में वडनगर गांव में एक गुजराती मध्यम वर्ग के परिवार में हुआ था।इनके माता का नाम हीराबेन मोदी तथा पिता का नाम दामोदरदास मूलचंद मोदी था। मोदी का परिवार मोध घांची तेली वर्ग का था जो हमारे भारत में पिछड़ा वर्ग के रूप में बाटा गया है।

मोदी का परिवार पूरी तरह से शाकाहारी परिवार है।भारत और पाकिस्तान के बीच में जब युद्ध हुआ था तब नरेंद्र मोदी ने अपनी इच्छा से रेलवे स्टेशन पर जितनी भी सैनिक सफर कर रहे थे वे उन सैनिकों का सेवा करते थे। नरेंद्र मोदी युवावस्था में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में सम्मिलित हो गए। उन्होंने भारत से भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए नव निर्माण का आंदोलन में सामिल हुए।

नरेंद्र मोदी को भारतीय जनता पार्टी में संगठन का प्रतिनिधि मनोनीत किया गया क्युकी वह पूर्णकालिक आयोजक के रूप में कार्य किए थे। नरेंद्र मोदी किशोरावस्था में चाय की दुकान अपने भाई के साथ सुरु की थी और साथ ही उन्होंने अपनी विद्यालय की शिक्षा वडनगर से पूरी की थी।

नरेंद्र मोदी कुल छः भाई बहन थे और नरेंद्र मोदी तीसरी संतान थे दामोदरदास मूलचंद मोदी की। बचपन में नरेंद्र मोदी ने अपने पिता के साथ रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने में मदद की थी। मोदी के शिक्षक के अनुसार नरेंद्र मोदी एक औसत विद्यार्धी थे लेकिन उनकी रुचि राजनीतिक विषयो में अधिक थी।और वाद विवाद तथा प्रतियोगिताओं में अधिक रुचि थी।

नरेंद्र मोदी का विवाह 17 वर्ष की आयु में जसोदा बेन चमनलाल के साथ हुआ था लेकिन उनकी सगाई 13 वर्ष की आयु में ही कर दी गई थी। फाइनेंशियल एक्सप्रेस की खबर के अनुसार नरेंद्र मोदी और उनकी पत्नी सिर्फ कुछ दिनों तक ही साथ रहे उसके पश्चात दोनो अलग हो गए है।

लेकिन नरेंद्र मोदी के जीवनी के लेखक ऐसा नही उनका कहना था की शादी के बाद वो दोनो कभी साथ ही नही रहे और शादी के कुछ दिन पश्चात उन्होंने अपना घर त्याग दिया। नरेंद्र मोदी ने विधान सभा के चुनाओ में कहा की अविवाहित रहने की जानाकारी देकर उन्होंने किसी भी तरह का पाप नही किया है।

उनका ऐसा मानना था कि विवाहित लोगो से अच्छा भ्रष्टाचार दूर करने के लिए अविवाहित पुरुष ही ज्यादा कारगर है। नरेंद्र मोदी पहली राजनीति गतिविधियां 1971 में अटल बिहारी वाजपेई की अगवाई में दिल्ली में भारतीय जनसंघ के सत्याग्रह में जुड़े।

नरेंद्र मोदी कुछ समय के लिए तिहाड़ जेल में भी गए थे। नरेंद्र मोदी जब विश्वविद्यालय में पढ़ते थे तभी से वो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में निरंतर जाने लगे थे। शुरुआती जीवन में नरेंद्र मोदी राजनीतिक सक्रियता दिखाई और भारतीय जनता पार्टी का जनाधार मजबूत करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

सन 2001 में गुजरात के मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल लेकिन किसी कारणवश उनकी तबीयत बिगड़ने लगी जिस वजह से भाजपा राष्ट्रीय नेता के रूप में नरेंद्र मोदी को बनाना चाहा। लेकिन लाल कृष्ण आडवाणी जो भाजपा के नेता थे वह नरेंद्र मोदी के सरकार चलाने के अनुभव में कमी के कारण चिंतित थे।

नरेंद्र मोदी के सामने उप मुख्यमंत्री बनने का प्रस्ताव रखा गया लेकिन उन्होंने उसको मानने से इंकार कर दिया उनका कहना था कि अगर आप गुजरात की जिम्मेदारी देना चाहते हैं तो पूर्ण रूप से दीजिए अन्यथा मत दीजिए। उसके पश्चात 3 अक्टूबर 2001 को गुजरात के मुख्यमंत्री की जगह नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने।

और इन के मुख्यमंत्री का कार्यकाल 7 अक्टूबर 2001 से शुरू हुआ उसके पश्चात मोदी ने राजकोट विधानसभा के लिए चुनाव लड़े जिसमें उन्होंने 14728 मतों से कांग्रेस पार्टी के अश्विन मेहता को हराया। उसके पश्चात नरेंद्र मोदी ने कई हिंदू मंदिरों को भी दोस्त करवाने में कोई कोताही नहीं बरती जो सरकारी कानून के मुताबिक नहीं बने थे इस वजह से उनको हिंदू विश्व परिषद जैसे संगठनों को भी कोपभाजन बनाना पड़ा।

नरेंद्र मोदी ने गुजरात के विकास के लिए कई सारे महत्वपूर्ण कार्य किए हैं जैसे पंचामृत योजना सुजलाम सुफलाम कृषि महोत्सव चिरंजीवी योजना मातृ वंदना बेटी बचाओ ज्योति ग्राम योजना कर्मयोगी अभियान कन्या कलावड़ योजना बाल भोग योजना जिसमें निर्धन बच्चों को दोपहर का भोजन विद्यालय में दिया जाता था।

नरेंद्र मोदी 26 मई 2014 में भारत के 15वें प्रधानमंत्री का कार्यकाल राष्ट्रपति भवन से शपथ ग्रहण करने के पश्चात आरंभ किया। शपथ के दौरान राष्ट्रपति भवन में कूल 46 मंत्रियों समारोह मैं अपने पद की शपथ ली थी।

भारत की अर्थव्यवस्था को सुधारने के कई सारे महत्वपूर्ण कार्य के जैसे भ्रष्टाचार से संबंधित एसआईटी की स्थापना, समस्त भारतीयों के अर्थव्यवस्था की मुख्यधारा में समावेश के लिए प्रधानमंत्री जन धन योजना को शुरू किया रक्षा उत्पादन क्षेत्र में विदेशी निवेश की अनुमति दी गई।भारत देश से काला धन निकालने और समांतर अर्थव्यवस्था को समाप्त करने के लिए नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2016 से 500 तथा 1000 के नोटों को अमान्य कर दिया।

नरेंद्र मोदी जब सर्व प्रथम विदेश यात्रा पर जाना था तब उन्होंने भूटान का चयन किया और नेपाल यात्रा के दौरान उन्होंने पशुपतिनाथ मंदिर में पूजा करें। ब्रिक्स सम्मेलन में नए विकास बैंक को स्थापित किया तथा अमेरिका व चीन की यात्रा से पहले उन्होंने जापान देश की यात्रा पर गए।भारत देश में गंदगी को बढ़ते देखकर प्रधानमंत्री ने 2 अक्टूबर 2014 को साफ सफाई के बढ़ावे के लिए स्वच्छ भारत अभियान का शुभारंभ किया।इस अभियान के दौरान उन्होंने पूरे देश भर में शौचालय बनवाए बाहर शौच करने से किस तरह की बीमारियां हमें हो सकती है इसके बारे में जनता को जागरूक किया और इस अभियान का प्रतीक उन्होंने गांधी जी का चश्मा रखा और साथ में एक कदम स्वच्छता की ओर टैगलाइन बनवाई।

Read Also – Gautam buddha information in hindi

निष्कर्ष

दोस्तों अभी हमने आपको इस ब्लॉग में लिखकर बताया information about narendra modi in hindi। अगर आपको इनके बारे में जानकारी अच्छा लगा है तो आप हमें कमेंट में बताइए और यदि आपका कोई सवाल है तो आप उसके बारे में भी हमसे पूछ सकते हैं।

Leave a Comment