सचिन तेंदुलकर के बारे में जानकारी 2021 | Information about sachin tendulkar in hindi

दोस्तों आज मैं आपको इस ब्लॉग में बताने वाला हूं सचिन तेंदुलकर के बारे में जो एक बहुत ही महान खिलाड़ी हैं अर्थात आज का हमारा विषय है information about sachin tendulkar in hindi। सचिन तेंदुलकर का नाम पूरे भारत एवं पूरे विश्व भर में फैला हुआ है जिस वजह से गूगल पर प्रतिदिन इस तरह के सर्च होते हैं जैसे कि information about sachin tendulkar in hindi language , information about sachin tendulkar in hindi writing

तो चलिए शुरू करते हैं

सचिन तेंदुलकर के बारे में जानकारी | Information about sachin tendulkar in hindi | information about sachin tendulkar in hindi language

सचिन तेंदुलकर के बारे में जानकारी 2021 | Information about sachin tendulkar in hindi

सचिन तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 को हुआ था। सचिन तेंदुलकर राजापुर के मराठी ब्राह्मण परिवार में जन्मे थे उनके पिता का नाम रमेश तेंदुलकर था। उनके पिताजी ने इनका नाम अपने चहेते सिंगर सचिन देव बर्मन के नाम पर रखा था।

सचिन तेंदुलकर के पिताजी रमेश तेंदुलकर व एक मराठी स्कूल में शिक्षक थे क्रिकेट खेलने के लिए सचिन तेंदुलकर को उनके बड़े भाई ने प्रोत्साहित किया था उनके बड़े भाई का नाम अजीत तेंदुलकर था।

सचिन तेंदुलकर का मन पढ़ाई में बहुत कम लगता था और खेलकूद में ज्यादा लगता था जिस वजह से हुआ यह कोई अपना जीवन बनाने का निश्चय किया था युवावस्था में अभ्यास करते थे करते थे और उनके द्वारा एक सिक्का रखा जाता था जो भी करता था उसका हो जाता था और यदि सचिन बिना आउट हुए लंबे समय तक बल्लेबाजी करते हैं अर्थात बल्लेबाजी करते हैं और वह आउट नहीं होते तो वह सिक्का उनका हो जाता था और ऐसा उन्होंने 13 सिक्के जीते थे जो सबको आज भी बहुत प्रिय है।

सचिन तेंदुलकर एक हरीश शील्ड प्रतियोगिता के दौरान अविजित पारी अर्थात साझेदारी निभाई और यह प्रतियोगिता 1988 में हुई थी । इस मैच के दौरान सचिन तेंदुलकर ने 320 रन बनाया और टोटल 664 रनों की साझेदारी सहयोग में खेलने वाला खिलाड़ी विनोद कांबली था। इन दोनों के ऐसे ताबड़तोड़ प्रदर्शन के बाद बदलने मैच खेलने से इंकार कर दिया और उनमें से एक गेंदबाज रोने लगा।

खेल की पद्धति

सचिन तेंदुलकर दाएं हाथ के बल्लेबाज थे लेकिन वा लिखने का कार्य बाय हाथ से करते थे। सचिन तेंदुलकर की बल्लेबाजी बेहतरीन संतुलन और नियंत्रण पर आधारित है सचिन तेंदुलकर को धीमी पीछे ज्यादा तेज पिच पर खेलना बहुत पसंद है इसलिए वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के साथ तेज पिचों पर उनको खेलना बेहद पसंद है।

ऑस्ट्रेलिया के एक पूर्व प्रशिक्षक जॉन ब्यूकैनन ने कहा था कि सचिन तेंदुलकर शॉर्ट गेंद से खेलना पसंद करते हैं जब वह अपनी पारी की शुरुआत कर रहे होते हैं।जॉन ब्यूकैनन का ऐसा मानना था कि सचिन तेंदुलकर की कमजोरी बाए हाथ की तेज गेंद है सचिन तेंदुलकर खेल के दौरान कई बार चोट ग्रस्त भी हुए हैं सन 2004 में वह कई बार चोट ग्रस्त हुए और तभी से उनके बल्लेबाजी की आक्रामकता में कमी आने लगी और कई लोगों ने कहा कि सचिन अब पहले जैसे खिलाड़ी नहीं रह गए उनमें से ही एक पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी इयान चैपल ने कहा कि सचिन तेंदुलकर आप पहले जैसा नहीं खेल पाते।

सचिन तेंदुलकर को हमने सिर्फ बल्लेबाजी करते हुए देखा है गेंदबाजी वह बहुत कम करते हैं लेकिन वाह मध्यम तेज गेंदबाज स्पिनर ऑफ स्पिन गेंदबाजी करने में प्रखर है कई बार यदि कोई बल्लेबाज की जोड़ी लंबे समय तक पिच पर टिकी है तब उन जोड़ी को तोड़ने के लिए भी सचिन तेंदुलकर को बुलाया जाता है क्योंकि उनको बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों का बहुत ही अच्छा अनुभव है जिस वजह से वह किसी भी बल्लेबाज और गेंदबाज को चकमा देने में कामयाब हो सकते हैं।

इंडियन प्रीमियर लीग और चैंपियन लीन

2008 में इंडियन प्रीमियर लीग 20 20 में सचिन तेंदुलकर को मुम्बई इंडियंस के लिए कैप्टन बनाया गया था। सचिन तेंदुलकर एक आइकन खिलाड़ी के रूप में वाह $11 21250 की राशि के लिए हस्ताक्षर किए।

2010 संस्करण मुंबई इंडियन के फाइनल में पहुंच गए सचिन तेंदुलकर ने उस टूर्नामेंट में 14 पारियों में 608 रन बनाए थे सचिन तेंदुलकर ने आईपीएल सीजन के सबसे अधिक रन बनाने वाले शान मार्श का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया था।

सचिन तेंदुलकर ने 2010 के आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज और सर्वश्रेष्ठ कैप्टन का पुरस्कार जीता आईपीएल के सत्रों में 500 से अधिक रन बनाए।

सचिन तेंदुलकर द्वारा सन 2001 में 259 पारियों में 10000 ओडीआई रन बनाकर पहले बल्लेबाज बने सचिन तेंदुलकर भारत के तरफ से खेलने वाले खिलाड़ी थे जिन्होंने 2011 क्रिकेट विश्व कप भी जीता था। दक्षिण अफ्रीका में आयोजित टूर्नामेंट के उन्हें पहले प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का नाम दिया गया था।

सचिन तेंदुलकर हमारे भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी के एक बहुत ही अच्छे निर्देशक रहे हैं उनको खेल के अनुभव इतना अत्यधिक था कि वह किसी भी गेम को किसी भी तरह से पलट सकते थे सचिन तेंदुलकर की हाइट कम होने की वजह से कई गेंदबाजों को बच्चा समझते थे शुरुआती दौर में इसके पश्चात जब सचिन तेंदुलकर खेलना शुरू करते थे तब उनको रोक पाना और आउट कर पाना बहुत मुश्किल हो जाता था।

सचिन तेंदुलकर भूतपूर्व राज्यसभा के सदस्य रह चुके हैं उनको 2012 में राज्यसभा के लिए नामित किया गया था।
सचिन के पास एक मैच में हेलमेट नहीं था जिस वजह से वह बिना हेलमेट के बल्लेबाजी करने मैदान में उतर गए तब वहां पर तेज गेंदबाज राजू कुलकर्णी था उनको ऐसा लगा कि यह बच्चा मेरा मजाक उड़ा रहा है जिस वजह से उन्होंने सचिन तेंदुलकर को बहुत ही तेजी के साथ बाउंस गेंद डालना शुरू किया।

सचिन तेंदुलकर 19 वर्ष की आयु में क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। और आपको एक बात जानकर हैरानी होगी किस सन 1988 में मुंबई में हो रहे भारत और पाकिस्तान के बीच अभ्यास मैच में सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान की टीम के लिए फील्डिंग की थी।

सचिन तेंदुलकर सन 1998 में पूरी टीम के लिए बैंगन का भर्ता बनाया था। सचिन तेंदुलकर वर्तमान समय में कई सारी कंपनियों का विज्ञापन करते हैं उनमें से बूस्ट एक ऐसी कंपनी है जिनका विज्ञापन सचिन तेंदुलकर ने सबसे पहले किया था।

Read Also – Lokmanya Tilak Information In Hindi

निष्कर्ष

दोस्तों अभियान ने आपको इस ब्लॉग में बताया information about sachin tendulkar in hindi। अगर आपको यह पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी साझा करें और यदि आप अपने विषय पर जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए आप हमें कमेंट कर सकते हैं हम आपको अवश्य उस विषय पर जानकारी देंगे।

Leave a Comment