बंदर के बारे में जानकारी 2021 | Monkey Information In Hindi

दोस्तो आज आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने वाला हूं बंदर के बारे में अर्थात आज का हमारा विषय है monkey information in hindi। हम सभी ने बंदर को कभी ना कभी अवश्य ही देखा होगा लेकिन उसके बारे में संपूर्ण जानकारी कई लोगों के पास नहीं है इसलिए गूगल पर प्रति इस तरह के सर्चेस होते रहते हैं जैसे कि Information about monkey in hindi , monkey information in hindi wikipedia। मैं पूरी कोशिश करूंगा कि मुझे जितनी जानकारी बंदर के बारे में वह सभी आपको दूं ताकि आप भी उसके बारे में इतनी जानकारी प्राप्त कर सके।

तो चलिए शुरू करते हैं

बंदर के बारे में जानकारी | monkey information in hindi | Information about monkey in hindi

बंदर के बारे में जानकारी 2021 | Monkey Information In Hindi

बंदर हमारे देश में बहुत ही अधिक मात्रा में पाया जाता है क्योंकि यह एक ऐसा प्राणी है जो प्राचीन काल से चला हुआ आ रहा है हम सभी को यह बात पता है कि हमारे पूर्वज पहले बंदर ही हुआ करते थे इसीलिए आज भी बंदर की प्रजाति हमारे धरती पर मौजूद है।

बंदर एक ऐसा प्राणी है जो कभी भी एक स्थान पर स्थिर नहीं बैठ सकता वह कुछ ना कुछ करता रहता है नहीं तो वह इधर से उधर उछलता रहता है यह बंदर बहुत बुद्धिमान और चालाक होते हैं।

बंदर एक पालतू जानवर है जिसे हम बहुत ही आसानी से पाल सकते हैं और अपने घर पर इसे रख सकते हैं बंदरों के सामने आप जिस तरह का कार्य करेंगे बंदर आपका सेम नकल उतारता है।

बंदर हर एक मनुष्य की नकल उतारता है जिस वजह से कई बार उसको नुकसान भी उठाना पड़ जाता है। सभी मनुष्य बंदरों को केला एवं अन्य फल और भोजन कराते हैं क्योंकि हमारे देश में सभी प्राणियों का बहुत ही अधिक ध्यान रखा जाता है।

बंदर हमें अक्सर जंगलों एवं पहाड़ों पर देखने को मिलता है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में बंदर इधर उधर भी आपको देखने को मिल जाते हैं ग्रामीण क्षेत्रों में बंदर हमें अक्सर देखने मिलते हैं लेकिन शहरी इलाकों में बंदरों को देखना थोड़ा मुश्किल है इस वजह से वह लोग चिड़ियाघर में जाकर बंदर देखते हैं और कई बार बच्चे मदारी के पास भी बंदर देख लेते हैं।

बंदर भी कई प्रजाति के होते हैं और उनकी प्रजातियों उनके शरीर पर भी बहुत असर डालती है एशिया और अफ्रीका के बंदरों के पास 32 दांत होते हैं जबकि अमेरिका के बंदर के पास 36 दांत होते हैं।

हम आपको बता दें कि वर्तमान समय में हम सभी जानवरों के साथ बंदरों की प्रजातियों को भी खो रहे हैं अभी तक हम मनुष्यों ने 264 प्रजातियों के बंदरों को खो दिया है बंदर शाकाहारी प्राणी होते हैं यह फल भोजन दान इत्यादि खाते हैं लेकिन कभी-कभी यह कीड़े मकोड़ों को भी खा लेते हैं।

जिस तरह हम मनुष्य केले के छिलके को निकाल कर उसके अंदर के हिस्से को खाते हैं उसी तरह बंदर भी केले के छिलके को उतार कर उसके अंदर के हिस्से को खाता है यही एक ऐसा प्राणी है जो मनुष्य की तरह खाता है।

क्या आपको यह बात पता है कि मनुष्य और बंदरों का डीएनए 98% तक मिलता है अर्थात मनुष्य और बंदर का डीएनए में सिर्फ 2% ही अंतर होता है। बंदरों की आयु 15 वर्ष से 32 वर्ष तक की होती है

बंदरों की प्रजाति अलग-अलग होती है जिस वजह से उनके शरीर और उनकी शक्ल और रंग का अलग अलग होना निश्चय है। कई बंदर का रंग भूरा और मुंह काला होता है लेकिन कई बंदरों का मुंह भूरा और रंग भी भूरा होता है।

बंदरों की प्रजाति उनके आकार पर भी बहुत प्रभाव डालती है क्योंकि उनके शरीर का आकार उनके प्रजाति के ऊपर निर्भर करता है कई बंदर बहुत बड़े हो जाते हैं लेकिन कई बंदर छोटे रह जाते हैं यह उनकी प्रजाति पर निर्भर करता है।

हम आपको बता दें कि 14 दिसंबर को वर्ल्ड मंकी डे मनाया जाता है। बंदर के पास चार पैर होते हैं लेकिन वह आगे के दो पैरों का इस्तेमाल हाथों की तरह करते हैं यदि जब उनको भोजन को पकड़ना होता है तब भी वह आगे के दो पैरों से ही पकड़ते हैं वह उनका इस्तेमाल हाथ की तरह ही करते हैं डालियों को पकड़ने के लिए भी वह आगे के दोनों पैरों का इस्तेमाल करते हैं।

बंदर के पास हम मनुष्य की तरह ही दो आंखे होती है जो उनको देखने के लिए मदद करते हैं और वह बहुत ही तीव्रता के साथ किसी भी चीज को देख कर उस पर तुरंत कार्य करने में सक्षम रहते हैं।

बंदरों का दिमाग हम मनुष्य की तरह ही तीव्र होता है वह किसी भी चीज को समझने में पूरी तरह से सक्षम होते हैं बंदरों की याददाश्त भी बहुत तेज होती है वह किसी चीज को एक बार देखने के बाद दोबारा उसे भूल नहीं पाते। बंदरों के पास दो कान होते हैं जो उनको सुनाने में मदद करता है और वह बहुत ही शुद्ध तरीके से किसी भी बात को सुन सकते हैं।

कई सारे लोग बंदर का इस्तेमाल अपनी जीविका चलाने के लिए भी कर रहे हैं जैसे सर्कस एवं मदारी लोग बंदर का इस्तेमाल लोगों के इंटरटेनमेंट के लिए कर रहे हैं और उससे वह कुछ पैसे कमा कर अपनी जीविका चला रहे हैं एक तरफ से हमेशा भी बोल सकते हैं कि बंदर हम मनुष्य की बहुत मदद करता है।

एक वैज्ञानिक चार्ल्स डार्विन के अनुसार हम सभी मनुष्य जो वर्तमान समय में इस तरह से अपना जीवन गुजार रहे हैं वह प्राचीन काल में एक बंदर की प्रजाति के ही थे जो समय अनुसार उनके शरीर में बदलाव होने पर वर्तमान समय में हम इस तरह से दिख रहे हैं।

जिस तरह हम मनुष्य बुड्ढे होने लगते हैं तो हमारे शरीर में कई तरह की बीमारियां और आंखें कमजोर होने लगती हैं उसी तरह बंदर की भी आंखें उनकी बढ़ती उम्र के साथ कमजोर हो जाती हैं और जापान में एक ऐसा रेस्टोरेंट है जहां पर बंदर वेटर का कार्य करते हैं इससे आप समझ सकते हैं कि बंदर कितना ज्यादा समझदार होता है।

Read Also – Hyena In Hindi

निष्कर्ष

दोस्तों अभी हमने आपको इस ब्लॉग में बताया monkey information in hindi। अगर आपको या पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी साझा करें और यदि आप चाहते हैं कि हम इसी तरह के monkey information in hindi अन्य विषय पर भी आपको जानकारी दें तो आप उसके लिए भी हमें कमेंट कर सकते हैं।

Leave a Comment