Sunday, January 29, 2023

साइना नेहवाल के बारे में जानकारी 2021 | Saina nehwal biography in hindi

Saina nehwal biography in hindi दोस्तों आज हम आपको इस ब्लाग में बताने वाले हैं साइना नेहवाल के बारे में आज का हमारा विषय है saina nehwal biography in hindi। साइना नेहवाल के बारे में संपूर्ण जानकारी ना होने की वजह से गूगल पर प्रतिदिन इस तरह के सर्च होते रहते हैं जैसे कि biography of saina nehwal in hindi , short biography of saina nehwal in hindi इसलिए मैं आप को उनके बारे में बताऊंगा।

तो चलिए शुरू करते हैं

साइना नेहवाल के बारे में जानकारी | Saina nehwal biography in hindi | biography of saina nehwal in hindi

Saina nehwal biography in hindi
Saina nehwal biography in hindi

साइना नेहवाल का जन्म :

साइना नेहवाल का जन्म 27 मार्च 1990 को हरियाणा के हिसार गांव में एक जाट परिवार में हुआ था इनके पिता जी का नाम डॉक्टर हरवीर सिंह नेहवाल तथा उनकी माता का नाम उषा नेहवाल था। साइना नेहवाल के माता तथा पिता दोनों ही बैडमिंटन के खिलाड़ी थे जिस वजह से साइना नेहवाल को भी बैडमिंटन खेलने में ज्यादा रूचि होने लगी और उनके इस रुचि के देखते हुए उनके पिता ने उनको पूरा समर्थन किया।

साइना नेहवाल ने अब तक कई सारे रिकॉर्ड बनाए हैं उन्होंने ओलंपिक खेलों में बैडमिंटन का कांस्य पदक जीतने वाली भारत देश की पहली महिला खिलाड़ी थी उन्होंने सन 2006 की एशियाई सेटेलाइट प्रतियोगिता भी जीती।

सन 2009 मैं इंडोनेशिया ओपन जीतने के बाद सुपर सीरीज बैडमिंटन प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम किया और ऐसा करने वाली है प्रथम भारतीय महिला थी इनके पहले अन्य किसी खिलाड़ी ने यह पदक नहीं जीता था उन्होंने दिल्ली में आयोजित हमारे देश का राष्ट्र मंडल खेल में स्वर्ण पदक जीता।

साइना नेहवाल ने सन 2006 में अंडर-19 राष्ट्रीय चैंपियन बनी और इन्होंने दो बार एशियन सेटेलाइट बैडमिंटन टूर्नामेंट जीता और अपना नाम इतिहास में लिखा है और ऐसा करने वाली प्रथम भारतीय महिला थी। हांगकांग की वांग को हराकर ओलंपिक खेल के क्वार्टर के फाइनल तक पहुंचने वाली साइना नेहवाल प्रथम भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी थी।

साइना नेहवाल को सन 2009 में अर्जुन पुरस्कार दिया गया। सन 2009 दसवीं उनको राजीव गांधी खेल रतन पुरस्कार से सम्मानित किया गया सन 2010 में पद्मश्री पुरस्कार दिया गया। जब उन्होंने सन 2012 में लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था तब उनको एक करोड रुपए हरियाणा सरकार की तरफ से तथा ₹5000000 राजस्थान सरकार की तरफ से एवं आंध्र प्रदेश सरकार की तरफ से उनको 5000000 रुपए और 1000000 रुपए भारतीय बैडमिंटन संघ की तरफ से पुरस्कार स्वरूप दिया गया तथा उनको मंगलायतन विश्वविद्यालय की तरफ से डॉक्टरेट की उपाधि दी गई।

चेकोस्लोवाकिया कनिष्ठ प्रतियोगिता सन 2003 में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता तथा एशियाई सैटेलाइट बैडमिंटन प्रतियोगिता सन 2005 में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता फिलीपींस ओपन सन 2006 में साइना नेहवाल ने फिर से स्वर्ण पदक जीता। एशियाई सैटेलाइट बैडमिंटन प्रतियोगिता सन 2006 में एक बार पुनः उन्होंने स्वर्ण पदक जीता। भारतीय राष्ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता सन 2007 में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता। भारत के राष्ट्रीय खेल सन 2007 में उन्होंने पुनः एक बार स्वर्ण पदक जीता।

साइना नेहवाल ने सन 2008 में चीनी ताइपे ओपन ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड में स्वर्ण पदक जीता तथा भारतीय राष्ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता सन 2008 में उन्होंने एक बार पुनः स्वर्ण पदक जीता।सन 2010 मैं बैडमिंटन एशिया चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।

ओलंपिक खेल लंदन सन 2012 में साइना नेहवाल ने महिला एकल में कांस्य पदक जीता। सन 2017 में गिलास को विश्व प्रतियोगिताएं मैं महिला एकल में उन्होंने कांस्य पदक जीता तथा सन 2015 जकार्ता विश्व प्रतियोगिता में उन्होंने महिला एकल में रजत पदक जीता। एशियाई प्रतियोगिता सन 2018 वुहान में महिला एकल में साइना नेहवाल ने कांस्य पदक जीता।

एशियाई प्रतियोगिता सन 2016 में बुहान में महिला एकल में साइना नेहवाल ने कांस्य पदक जीता तथा सन् 2010 में नई दिल्ली महिला एकल में उन्होंने कहा इस पदक जीता।

सन 2016 कुशान तथा सन 2014 नई दिल्ली में उबर कप में उन्होंने टीम के साथ कांस्य पदक जीता। एशियाई खेल सन 2018 में जकार्ता पालेम्बैंग मैं महिला एकल में उन्होंने कांस्य पदक जीता तथा 2014 में इंचिओन मैं महिला टीम के साथ इन्होंने एशियाई खेल में कांस्य पदक जीता।

राष्ट्रमंडल खेल सन 2018 में महिला एकल में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता तथा मिश्रित टीम में भी इन्होंने स्वर्ण पदक जीता और सन 2010 में नई दिल्ली राष्ट्रमंडल खेल में उन्होंने महिला एकल में स्वर्ण पदक जीता।

राष्ट्रमंडल युवा खेल सन 2008 पुणे में लड़कियों का एकल बैडमिंटन खेल में उन्होंने स्वर्ण पदक विजेता तथा मिश्रित टीम में सन 2004 बेंडिगो में रजत पदक जीता।

 

पसन्द

साइना नेहवाल को आलू का पराठा एवं कीवी खाना बेहद पसंद है तथा यात्रा करना उनकी हॉबी है। साइना नेहवाल के पसंदीदा अभिनेता शाहरुख खान एवं महेश बाबू है। सचिन तेंदुलकर तथा राजर फेडरर पसंदीदा एथलीट के तथा इनको सिंगापुर इनकी पसंदीदा जगह है।

 

साइना नेहवाल के बारे में तथ्य :

साइना नेहवाल का तब उनकी दादी इनके जन्म से खुश नहीं थी क्योंकि वह एक लड़कियां चाहती थी और लड़की पैदा हुई थी।

इनकी माता इनको स्टैफी साइना कहकर पुकारती थी क्योंकि साइना नेहवाल को टेनिस स्टार स्टैफी ग्राफ बहुत पसंद थी।

साइना नेहवाल कराटे भी अच्छे से खेलती है उन्होंने कराटे में ब्राउन बेल्ट जीता है

सन 2012 में सचिन तेंदुलकर ने साइना नेहवाल को ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के लिए गिफ्ट स्वरूप बीएमडब्ल्यू कार गिफ्ट करी थी।

साइना नेहवाल की ऑटो बायोग्राफी सन 2018 में रिलीज हुई जिसका नाम था प्लेयिंग टू विन : माय लाइफ ऑन एंड ऑफ कोर्ट।

साइना नेहवाल बैडमिंटन खेल की एक बहुत ही प्रसिद्ध खिलाड़ी है या कई सारे लोगों के इंस्पिरेशन भी हैं साइना नेहवाल इतने सारे स्वर्ण पदक एवं कांस्य पदक जीतकर हमारे भारत देश का नाम पूरे विश्व भर में प्रसिद्ध किया है और कई सारे पुरस्कार इन्होंने ऐसे जीते हैं जिसको पहले किसी भी महिला खिलाड़ी ने नहीं जीता था। साइना नेहवाल का विवाह 14 दिसंबर 2018 में परप्पल्ली कश्यप के साथ हुआ। वर्तमान समय में इनकी आयु 29 वर्ष की है और उन्होंने महज इतने ही वर्षों में अपना जीवन अपना नाम तथा हमारे भारत देश का नाम पूरे विश्व भर में रोशन कर दिया है। इतना कुछ हासिल करने के बावजूद भी साइना नेहवाल सभी के साथ बहुत विनम्रता के साथ पेश आती हैं।

 

Read Also – Sandeep maheshwari biography in hindi

 

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आपको इस ब्लॉग में लिखकर बताया saina nehwal biography in hindi। अगर आपके उनके बारे में जानकारी अच्छा लगा हो तो आप अपने दोस्तों के साथ भी साझा करें और यदि आपका कोई सवाल है तो आप उसे हमें कमेंट में पूछ सकते हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,687FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles